Saturday, June 15, 2024
spot_img
Homeउत्तराखंडBig breaking: देहरादून वालों सावधान धर्मपूर चौक तक पहुंची गुलदार की धमक...

Big breaking: देहरादून वालों सावधान धर्मपूर चौक तक पहुंची गुलदार की धमक , cctv कैमरे में कैद हुई तस्वीर – RAIBAR PAHAD KA


शेयर करें

देहरादून। पिछले एक माह से भी ज्यादा से शहर और आसपास के इलाकों में आतंक के पर्याय बने गुलदार की धमक अब शहर के बीचों-बीच ऐन धर्मपुर चौक के नजदीक तक हो गई है। बीती दो रात से गुलदार धर्मपुर चौक से सटे रेसकोर्स नई बस्ती के बी ब्लॉक (प्रगति विहार) में देखा गया है। सीसीटीवी फुटेज में गुलदार के कैद होने के बाद वन विभाग और पुलिस भी सक्रिय हुई है। जहां वन विभाग ने क्षेत्र में गश्त शुरू कर दी है, वहीं पुलिस ने शनिवार देर शाम लाउडस्पीकर लगे वाहनों के जरिए मुनादी करके लोगों को सावधानी बरतने की अपील की।

पिछले कई दिन से शहर और आसपस के इलाकों में थी गुलदार की सक्रियता, अब घनी आबादी में पहुंचा

पिछले 26 दिसंबर की रात गुलदार मुख्यमंत्री आवास से कुछ किमी. के फासले पर स्थित शिगाली गांव में एक चार वर्षीय बच्चे को घर से उठाकर ले गया था। बच्चे का शव अगली सुबह राजपुर पुलिस और वन विभाग के साथ तलाश में जुटे ग्रामीणों को मिला था। इसके बाद गुलदार ने 14 जनवरी को राजपुर थाना क्षेत्र के ही कैनाल रोड कंडोली इलाके में रिस्पना नदी में खेलते बच्चों पर हमला बोल दिया था। इस घटना में एक बच्चा घायल हो गया था। इसके बाद से ही गुलदार की लगातार आमद सहस्त्रधारा रोड, कैनाल रोड आदि क्षेत्रों में देखी गई। कई सीसीटीवी फुटेज भी सामने आए, जिनमें एक साथ चार गुलदार नजर आ रहे थे। आशंका जताई जा रही थी कि इन्ही गुलदारों में से कुछ का मूवमेंट नाले-खाले के रास्ते शहर की घनी आबादी वाले इलाकों में भी हो सकता है। यह आशंका अब धर्मपुर चौक क्षेत्र में गुलदार के देखे जाने के साथ सच साबित हुई है।

दो रात से सुनाई दे रही थी गुर्राने की तेज आवाज, फुटेज चेक किए तो दिखा गुलदार: डंगवाल

धर्मपुर चौक से सटी है रेसकोर्स ऑफिसर्स कॉलोनी। इसी के एक हिस्से में नई बस्ती ब्लॉक-2 स्थित है, जिसे अब प्रगति विहार भी कहते हैं। सुमन नगर और रेसकोर्स ऑफिसर्स कॉलोनी के बीच के इसी हिस्से में गुलदार को देखे जाने की पुष्टि हुई है। इसी बस्ती में पूर्व पार्षद और राज्य आंदोलनकारी गणेश डंगवाल का घर है। डंगवाल ने बताया कि वीरवार और शुक्रवार रात गुलदार के गुर्राने की तेज आवाजें रात भर में कई बार आईं। शुरू में किसी ने इसे गंभीरता से नहीं लिया, लेकिन जब शुक्रवार रात भी यही सब हुआ, तो शनिवार को क्षेत्र में लगे सीसीटीवी खंगाले गए। उनके घर के बाहर स्थित गली के एक घर में लगे सीसीटवी में गुलदार का मूवमेट दिखाई दिया।

पुलिस ने इलाके में मुनादी कराकर लोगों को सतर्क रहने को कहा, वन विभाग भी कर रहा गश्त

गुलदार के मूवमेंट की पुष्टि होने के बाद क्षेत्रवासियों ने वन विभाग व नेहरू कॉलोनी पुलिस को भी सूचित किया। सुबह और दिन में वन विभाग व पुलिस टीमों ने क्षेत्र में आकर जायजा लिया और आसपास गश्त की। शाम को पुलिस ने सावधानी बरतने के लिए मुनादी भी कराई। वहीं, वन विभाग के अधिकारियों ने भी गुलदार देखे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि क्षेत्र में गश्त की जा रही है। पूर्व पार्षद डंगवाल का कहना है कि सुमन नगर और रेसकोर्स के बीच बहने वाला नाला कुछ जगह कवर्ड किया गया है और कुछ जगह खुला है। ऐसे में गुलदार अगर वहां छुपकर बैठे, तो उसे ढूंढना भी मुश्किल होगा। यही नहीं, क्षेत्र में बनी सरकारी कॉलोनी के कई क्वार्टर तोड़कर अधूरे छोड़े गए हैं। ऐसे में इन खंडहरों में भी गुलदार के छुपने की आशंका लोग जता रहे हैं। उनका कहना है कि आसपास कई स्कूल हैं। पूरा क्षेत्र घनी आबादी वाला है। पुलिस लाइन भी चंद कदम दूर है। इस सबके बीच गुलदार की आवाजाही से लोग बुरी तरह भयभीत हो गए हैं।

साभार: जितेन्द्र अंथवाल

About Post Author



Post Views:
272

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments