Home उत्तराखंड तकनीकी शिक्षा एवम् वन मंत्री सुबोध उनियाल ने श्री दरबार साहिब में टेका मत्था – RAIBAR PAHAD KA

तकनीकी शिक्षा एवम् वन मंत्री सुबोध उनियाल ने श्री दरबार साहिब में टेका मत्था – RAIBAR PAHAD KA

0
तकनीकी शिक्षा एवम् वन मंत्री सुबोध उनियाल ने श्री दरबार साहिब में टेका मत्था – RAIBAR PAHAD KA

[ad_1]

शेयर करें


 एसजीआरआर ग्रुप के संस्थानों के कल्याणकारी कार्यों की भूरी भूरी प्रशंसा की
 स्वास्थ्य, चिकित्सा व सेवा के क्षेत्र में एसजीआरआर के उल्लेखनीय योगदान को सराहा

देहरादून। तकनीकी शिक्षा एवम् वन मंत्री सुबोध उनियाल ने शनिवार को श्री दरबार साहिब में मत्था टेका। उन्होंने श्री दरबार साहिब के श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज से आशीर्वाद प्राप्त किया। दोनांे के मध्य प्रदेश के समसामयिक विषयों पर विस्तारपूर्वक चर्चा हुई। विशेष रूप से राज्य में तकनीकी शिक्षा के प्रसार एवम् उत्तराखण्ड की वन सम्पदा से जुड़े विभिन्न बिन्दुओं पर वार्तालाप हुआ।
श्री दरबार साहिब की परंपरा के अनुसार कैबिनेट मंत्री उत्तराखण्ड सरकार सुबोध उनियाल का स्वागत किया गया। सुबोध उनियाल ने कहा कि श्री दरबार साहिब के प्रति उनकी अटूट आस्था है। श्री दरबार साहिब में आकर मन को अपार शांति प्राप्त होती है। केबिनेट मंत्री ने श्री महाराज जी के दिशा निर्देशन में चल रहे एसजीआरआर ग्रुप के संस्थानों की प्रशंसा की। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल की ओर से स्वास्थ्य व चिकित्सा सेवा में किए जा रहे कल्याणकारी कार्यों को महत्वपूर्णं बताया। ज्ञातव्य है कि एसजीआरआर एजुकेशन मिशन दशकों से गुणवत्तापरक शिक्षा रियायती दरों पर प्रदान कर रहा है। कैबिनेट मंत्री ने आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी एसजीआरआर एजुकेशन मिशन इसी प्रकार जन हित से जुड़े उल्लेखनीय कार्य करता रहेगा।
उत्तराखण्ड में वनाग्नि के मामलों मंे आई कमी आई है। वन-जंगलों को आग से बचाने के लिए वन मंत्री की देखरेख में किए जा रहे कार्यों पर श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने विभागीय मंत्री सुबोध उनियाल के कार्यों की सराहना की। वनों में फलदार पौधे व अधिक से अधिक वृृक्षारोपण किए जाने पर भी गहनता से मंथन हुआ ताकि जंगली जानवर आबादी क्षेत्र में प्रवेश न करने पाएं। श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने श्री गुरु राम राय विश्वविद्यालय, श्री गुरु राम राय इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल एण्ड हैल्थ साइंसेज़ व एसजीआरआर एजुकेशन मिशन के अन्तर्गत संचालित स्कूलों के क्रिया कलापों से अवगत कराया।

About Post Author



Post Views:
20

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here