Saturday, June 15, 2024
spot_img
Homeउत्तराखंडकानपुर 43 लोकसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में विजय मर्तोलिया ने...

कानपुर 43 लोकसभा से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में विजय मर्तोलिया ने भरी हुंकार, बड़े-बड़े दिग्गजों का माथा ठनका, लाखों लोगों का है समर्थन – RAIBAR PAHAD KA


शेयर करें

कानपुर । मध्य प्रदेश राजस्थान छत्तीसगढ़ तेलंगाना की चुनाव सम्पन्न होचुके है हालांकि सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर बाद जम्मू कश्मीर में विधानसभा चुनाव होना बाकी है। परंतु लोकसभा चुनाव 2024 के लक्ष्य को लेकर देश के बड़ी पाटीर्या व क्षेत्रीय पार्टियां अपनी तैयारियों में जुट चुकी हैं । लोकसभा महासंग्राम में प्रत्याशियों के दावेदारों की झलक दिवाल प्रचार व होल्डिंग बैनरों में साफ दिखाई पड़ने लगी है। जिसमें कानपुर में तो पिछले छह महीने से ही लोकसभा चुनाव के दावेदार बधाई व शुभकामनाएं देते हुए नजर आ रहे हैं।

मालूम हो कि कानपुर नगर 43 लोकसभा का चुनाव अभी से ही धीरे धीरे दिलचस्प होता जा रहा है क्योंकि कानपुर नगर सीट से अखिल भारतीय असंगठित कर्मचारी मजदूर यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं उत्तराखंड महासंघ के चेयरमैन व समाजसेवी एवं सरल स्वभाव

विजय सिंह मार्तोलिया की स्वतंत्र दावेदारी से राजनीतिक विश्लेषकों व दिग्गज नेताओं का माथा ठनक गया है।

हालां कि माथा ठनका भी जायज नजर आ रहा है क्योंकि सबको पता है कि असंगठित कर्मचारी मजदूर यूनियन की जड़ कानपुर में काफी मजबूत है जिसके अंतर्गत कानपुर के सभी फैक्ट्री एरिया के कर्मचारी मजदूरों के अलावा छोटे दुकानदार र- ‘डी वाले पान के दुकानदार आदि असंगठित कर्मचारी मजदूर यूनियन से सीधे जुड़े हैं जिनकी संख्या आन रिकार्ड पांच लाख ग्यारह हजार के करीब है। यह सब सदस्य अपनी पसंदीदा पार्टी को वोट देने के लिए स्वतंत्र हैं परंतु जब उनके राष्ट्रीय –

अध्यक्ष विजय सिंह मार्तोलिया ही चुनाव लड़ रहे होंगे तो ऐसे में प्रथम वरीयता विजय सिंह मार्तोलिया को ही देंगे । क्योंकि असंगठित कर्मचारी मजदूर यूनियन के सदस्यों को आपात स्थिति में आर्थिक सहायता व लड़कियों की विवाह में खर्च की आधी भागेदारी एवं मेडिकल सुविधा मुहैया कराने कार्य विजय सिंह मार्तोलिया ही करते हैं । इसके अलावा विकलांग संघ की मदद के लिए विजय सिंह मार्तोलिया हमेशा आगे रहते हैं ।

कानपुर नगर सीट 43 लोकसभा के स्वतंत्र प्रत्याशी विजय सिंह मार्तोलिया के विषय में यह भी लोग जानते हैं कि वह शहर की तमाम मलिन बस्तियों सर्दियों में कंबल बांटने का काम, भोजन वितरण का काम, मुफ्त स्वास्थ्य सिविर लगाने का काम बढ़-चढ़कर करते रहते हैं इसलिए शहर की मलिन बस्तियों में भी विजय सिंह मार्तोलिया को भरपूर समर्थन मिलेगा । विजय सिंह मार्तोलिया का दावा है कि हमने हमेशा धरातल पर एक जनसेवक के रूप में काम किया है और आगे भी करता रहूंगा, चुनाव के मौसम आते रहेंगे -जाते रहेंगे ।

About Post Author



Post Views:
141

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments