Thursday, July 25, 2024
spot_img
Homeउत्तराखंडउत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र (यूसर्क) तथा श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय...

उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र (यूसर्क) तथा श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय ने किये एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर – RAIBAR PAHAD KA


शेयर करें

प्रदेश में विज्ञान शिक्षा, अनुसंधान, नवाचार तथा छात्र छात्राओं में वैज्ञानिक अभिवृत्ति के विकास हेतु सूचना, सुराज एवं विज्ञान प्रौद्योगिकी विभाग के अंतर्गत कार्यरत संस्था
उत्तराखंड विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान केंद्र (यूसर्क), देहरादून तथा प्रदेश के श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय, बादशाईथौल, टिहरी द्वारा एम.ओ.यू. ‘मेमोरेंडम आफ अंडरस्टैंडिंग’ पर हस्ताक्षर किए गए। यूसर्क की ओर से यूसर्क निदेशक प्रोफ़ेसर अनीता रावत तथा श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय की ओर से विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एन.के. जोशी ने समझौते पत्र पर हस्ताक्षर किए।
यूसर्क निदेशक प्रो. (डॉ) अनीता रावत ने बताया कि इस समझौते के आधार पर दोनों संस्थान प्रदेश में विज्ञान शिक्षा एवम वैज्ञानिक अनुसंधानों को स्तरीय बनाने तथा इसके अनुप्रयोगों व लाभों को प्रदेश अंतिम छोर पर स्थित छात्रों तक पहुंचाने हेतु मिलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि श्रीदेव सुमन विश्वविद्यालय यूसर्क द्वारा संचालित 200 से अधिक विज्ञान चेतना केंद्रों में से कम से कम पांच ‘यूसर्क विज्ञान चेतना केंद्रों’ को गोद लेकर उनमें विभिन्न वैज्ञानिक गतिविधियों का संचालन करते हुए विद्यालय के छात्र छात्राओं को अपने विश्वविद्यालय से विभिन्न सुविधाएं प्रदान करेगा।
श्रीदेव सुमन उत्तराखंड विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर एन.के. जोशी ने इस अवसर पर कहा कि आज के इस समझौते से जहां विश्वविद्यालय में अध्ययनरत छात्र छात्राओं को यूसर्क की वैज्ञानिक गतिविधियों का भरपूर लाभ मिलेगा, वहीं अन्य छात्र-छात्राऐं भी दोनों संस्थाओं के सम्मिलित प्रयासों से लाभान्वित होंगे।
यूसर्क वैज्ञानिक डॉक्टर ओम प्रकाश नौटियाल ने कहा कि दोनों संस्थाओं के बीच का यह समझौता प्रदेश के शैक्षिक एवं वैज्ञानिक विकास में मील का पत्थर सिद्ध होगा।
उक्त कार्यक्रम में श्री देव सुमन विश्वविद्यालय के डीन साइंस, प्रोफेसर गुलशन कुमार ढींगरा ने कहा कि इससे विश्वविद्यालय के प्राध्यापक तथा यूसर्क के वैज्ञानिक परस्पर मिलकर विभिन्न क्षेत्रों में सहयोगात्मक अनुसंधानों हेतु प्रेरित होंगे।

इस अवसर पर प्रोफेसर जी.के. ढींगरा, यूसर्क वैज्ञानिक डॉ. ओम प्रकाश नौटियाल, डॉ मंजू सुंदरियाल, डॉ भावतोष शर्मा, डॉ राजेंद्र सिंह राणा, इंजी. उमेश जोशी, इंजी. ओम जोशी, इंजी. राजदीप जंग थापा आदि उपस्थित थे।

About Post Author



Post Views:
8

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments